भारत-चीन सीमा पर अब संयुक्त सुधार के लिए बनेगा थियेटर कमांड 

चीनी सीमा की देखभाल करने वाली भारतीय सेना थिएटर कमांड बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है। युद्ध लड़ने के लिए तीनों सेनाओं के बीच संयुक्त में सुधार के लिए थिएटर कमांड

भारत-चीन सीमा पर अब संयुक्त सुधार के लिए बनेगा थियेटर कमांड 


नईदिल्ली। सरकार ने चीफ आॅफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत की अध्यक्षता वाले सैन्य मामलों के विभाग को युद्ध लड़ने के लिए तीनों सेनाओं के बीच संयुक्त में सुधार के लिए थिएटर कमांड बनाने को कहा है। चीन की सीमा की देखभाल पहले भारतीय सेना के उत्तरी, पश्चिमी, मध्य और पूर्वी कमानों द्वारा की जाती थी, लेकिन अब इसे केवल तीन कमानों द्वारा प्रबंधित किया जाएगा।
चीनी सीमा की देखभाल करने वाली भारतीय सेना थिएटर कमांड बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है। थिएटर कमांड निर्माण होने से सीमा संसाधन प्रबंधन को बल मिलेगा। भारतीय सेना ने हाल ही में लखनऊ स्थित मध्य कमान के तहत हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में चीनी सीमाओं की पूरी स्टडी की है। 
लद्दाख में नहीं बनेगा थिएटर कमांड
भारत सरकार के सूत्रों ने बताया कि भारतीय सेना ने थिएटर कमांड ढांचों के गठन की स्टडी के लिए सेंट्रल आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाईके डिमरी और दक्षिण पश्चिमी आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल अमरदीप सिंह भिंडर को नॉमिनेट किया है। बता दें कि तीनों सेवाओं की क्षमताओं में समन्वय और उनके संसाधनों का अधिकतम इस्तेमाल करने के लिए इंटीग्रेटेड थिएटर कमांड की योजना बनाई जा रही है। यह अन्य कमांड से पूरी तरह अलग होगा। सूत्रों ने बताया कि सैन्य विभाग की योजना चार नए थिएटर कमांड बनाने की है, हालांकि, इसमें संवेदनशील लद्दाख सेक्टर शामिल नहीं है।