मस्जिद, मंदिर, मोदी और कांग्रेस को लेकर डॉ. पाण्डेय ने कही ऐसी बातें कि गर्मा गया सदन का माहौल, - जानिये क्या बोले विधानसभा में जावरा विधायक 

जावरा विधायक डॉ. पाण्डेय ने ऐसी बातें कही पक्ष के विधायकों ने जहां तालियां बजाई तो वहीं विपक्ष के कुछ विधायकों ने नाराज होकर टिप्पणी वापस लेने की मांग तक कर डाली। 

Dec 22, 2023 - 18:03
Dec 22, 2023 - 18:06
 0
मस्जिद, मंदिर, मोदी और कांग्रेस को लेकर डॉ. पाण्डेय ने कही ऐसी बातें कि गर्मा गया सदन का माहौल, - जानिये क्या बोले विधानसभा में जावरा विधायक 
Jaora MLA Dr. Rajendra Pandey, District Ratlam MP (BJP)

भोपाल @newsmpg। विधानसभा में चौथी बार पंहुचे जावरा विधायक डॉ. राजेंद्र पाण्डेय ने पहले ही दिन विधानसभा में अपने भाषण से धूम मचा दी। मस्जिद, मंदिर, मोदी और कांग्रेस को लेकर उन्होंने ऐसी बात कहीं कि सदन का माहौल गर्म गया। पक्ष के विधायकों ने जहां तालियां बजाई तो वहीं विपक्ष के कुछ विधायकों ने नाराज होकर टिप्पणी वापस लेने की मांग तक कर डाली। 

डॉ. राजेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि अभी मुख्यमंत्री ने शपथ लेते ही ध्वनिविस्तारक यंत्रों पर नियंत्रण, मांस विक्रय पर नियंत्रण किया। इसमें धार्मिक भावनाएं कैसे आहत हो गईं। यह स्वास्थ्य से जुड़ी बात है। डॉ. पाण्डेय ने अपनी बात रखते हुए कबीरदास के दोहे भी सदन में दोहराए। उन्होंने कहा कि कबीरदास जी ने सैंकड़ों वर्ष पूर्व बिना भेद के सीधे कहा था कि - माला फेरत जुग भया, भया न मन का फेर, करका मनका छारिके, मनका- मनका फेर...। डॉ. पाण्डेय ने कबीरदास जी के दूसरे दोहे को भी सुनाते हुए कहा - कंकड़ पत्थर जारिके, मस्जिद ली बनाए, ता चढ़ी मुल्लाबाग दे, क्या बहरा हुआ खुदाए...। तब किसी ने बुरा नहीं माना। उन्होंने आगे कहा कि मुस्लिम रियासत, नवाबी स्टेट मेरी विधानसभा है। हमने धर्मनिरपेक्ष वातावरण में वहां पर लगातार काम किए हैं और चौथी बार सदन में आने का सौभाग्य मिला है। 

कांग्रेस आखिरकार कर क्या रही है...

डॉ. पाण्डेय ने सदन में कहा कि एक विद्वान ने कहा है कि किसी देश को समाप्त करने के लिए मिसाईल की जरूरत नहीं। उस देश के मूल विचारों, संस्कृति, संस्कारों को समाप्त कर दें तो देश समाप्त हो जायेगा। शायद कांग्रेस उसी दिशा की और चलती जा रही है। भारतवर्ष के जन-जन में वह बैठा हुआ है कि आखिरकर कांग्रेस कर क्या रही है? डॉ. पाण्डेय ने कहा कि कांग्रेस ने ही देश की आजादी के समय कह दिया था कि देश में अगर सबसे पहले अगर किसी का हक, बनता है तो वह अल्पसंख्यक वर्ग का। 

विपक्ष को लगा बुरा, ली आपत्ति 

बयान पर कांग्रेस विधायक रामकिशोर दोगने ने कहा कि यह बातें क्या राज्यपाल के अभिभाषण पर हो रही है...? पाण्डेय ने कहा कि सच्चाई सुनिये और सच्चाई को सुनने का धर्म बनता है। विधायक आरिफ मसूद ने कहा कि राजेन्द्र भाई आप बहुत वरिष्ठ हैं, मैं आपका सम्मान करता हूं, लेकिन टिप्पणी ऐसी मत करो..। इसपर पुन: डॉ. पाण्डेय ने कहा कि आप मेरा निवेदन स्वीकार करें मैं तथ्य बता रहा हूं, किसी की भावना आहत करना मेरा उद्देश्य नहीं हैं। इसके बाद भाजपा के उमाकांत शर्मा ने समर्थन करते हुए कहा कि जब भगवान शब्द प्रयोग होता है तो अल्लाह शब्द भी प्रयोग हो सकता है। डॉ. पाण्डेय ने हालांकि फिर कहा कि किसी की भावनाओं को ठेस पहुंची है तो मैं क्षमा चाहता हूं। यह नारा मैंने नहीं दिया, जहां से लगाया गया वही सुना और व्यक्त किया है। 


देश नहीं विदेश में लग रहे मोदी-मोदी के नारे 

डॉ. पाण्डेय ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के बारे में लगातार आक्षेप किए जा रहे हैं। सदन में यह बात भी आई कि योजनाओं में उनका नाम होता है। लेकिन 60 से 90 प्रतिशत तक राशि विभिन्न योजनाओं में चाहे केन्द्र की हो, चाहे राज्य की हो, योजनाओं का समन्वय होता है तो निश्चित रूप से प्रधानमंत्री मोदी का नाम इसमें उल्लेखित होगा। आज देश ही नहीं पूरा विश्व में मोदी, मोदी, के नारे, जयकारे लगते हैं। विश्व में जहां वे गए वहां देश का गौरव बढ़ा है। 

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow